Monday, May 22, 2017

मदर्स डे

आज बार-बार माँ की याद आ रही हैं
हर ओर माँ के लिए खुशियाँ मन रही हैं
आज की यादे कुछ ताज़ा हो चली हैं
आज माँ की बाते रह-रह के सुन रही हूं  
आज माँ मेरे सपनो में आई थी
काश आज मेरी माँ भी मेरे पास होती
आज मेरे लिए दिन के ख़ास मायने होते
आज माँ के लिए कोई नया सा सपना होता
माँ के लिए हाथों में कोई तोहफा होता
माँ मुस्कुरा रही होती
मैं उनके गले मिल रही होती
मदर्स डे तो हर साल आता हैं
पर माँ तो हर रोज़ ममता बरसाती हैं
माँ की ममता के धुप-छाँव में
बच्चों के मन मस्त रहते हैं सदा
हर बच्चे को माँ की छाँव मिले
माँ का आँचल हो उनके सर पर
उनको सारी दुनिया का प्यार मिले.