Sunday, April 8, 2018

वरदान

अपनी संतान को एक वरदान दे
माँ हमें ज्ञान दो, दिल में तूफ़ान दो
भक्ति-सेवा का मुझमें संचार हो
करुणा-दया दिल की आवाज़ हो
अपने मन में हो सम्मान सबके लिए

अपनी संतान को एक वरदान दे
माँ हमें ज्ञान दो, प्रेम का मान दो
सेवा भाव का हम्मे अरमान हो
जो मेरी जान हो सबकी पहचान हो
सच्ची सेवा का ही अपना अरमान हो

अपनी संतान को एक वरदान दो
मा हमें ज्ञान दो सत्य का मान दो
अहंकार सब मिटा दो माँ
वरदान दो प्रेम का ज्ञान दो
माँ हमें ज्ञान दो, माँ हमें ज्ञान दो

अपनी संतान को एक वरदान दो
माँ हमें ज्ञान दो, माँ हमें ज्ञान दो
कण-कण में सुख का संचार दो
हर घर में शांति का वरदान दो
जीवों के मम में दया भाव दो
माँ हमें ज्ञान दो एक वरदान दो.